Wednesday, July 8, 2020

Sad Heart Alone Love Status In Hindi

Sad Heart Alone Love Status: सुख और दुख जीवन का हिस्सा हैं। लेकिन जब हम दुखी होते हैं तो हमारा दिल भी उदास रहने लगता है और हमें अपने प्यार की याद आने लगती है और जब हम किसी प्यार करने वाले से बिछड़ते है तो दिल को बहुत ही दर्द होता है| । तो दोस्तों आज के आर्टिकल में हम आपके साथ कुछ Sad Heart Alone Love status  शेयर  करने जा रहे है, जिनके जरिये आप अपनी भावनाओं को Facebook, Whatsapp और दूसरे किसी भी सोशल मीडिया साईट पर शेयर सकते है|

 

Sad Heart Alone Love Status In Hindi


मोहब्बत और मौत की  पसंद तो देखिए ……

एक को दिल चाहिए  और दूसरे को धड़कन........ 

 

mohabbat aur maut ki pasand to dekhia ……

ek ko dil chaahia aur dusre ko dhdakan........ 

 

चेहरे अज़नबी हो जाएं तो कोई बात नहीं!!!

पर जब रवैये अज़नबी हो जाएं तो तक़लीफ़ होती है!!! 

 

chehre ajnbi ho jaaan to koi baat nahin!!!

par jab ravaiye ajnbi ho jaaan to tklif hoti hai!!! 

 

चेहरे साफ़ दिल में दाग*

*उफ्फ*

*ये आस्तीन के सांप*  

 

chehre saaph dil men daag*

*uphph*

*ye aastin ke saamp* 


इन्हें भी देखें :-

 

अब मत खोलना

मेरी   जिंदगी की पुरानी किताबों को।

 जो था वो मैं रहा नहीं  

जो हूँ वो किसी को पता नहीं। 

 

ab mat kholnaa

meri jindgi ki puraani kitaabon ko

jo thaa vo main rahaa nahin

jo hun vo kisi ko pataa nahin 

 

निकल आते हैं आँसू गर जरा सी चूक हो जाये,.....!!!!!

किसी की आँख में "काजल" लगाना खेल थोड़ी है...!!! 

 

nikal aate hain aansu gar jaraa si chuk ho jaaye,.....!!!!!

kisi ki aankh men "kaajal" lagaanaa khel thodi hai...!!! 

 

दो बूंदे क्या बरसी,*

*चार बादल क्या छा गये,*

*किसी को जाम तो*

*किसी को कुछ नाम याद आ गए।* 

 

do bunde kyaa barsi,*

*chaar baadal kyaa chhaa gaye,*

*kisi ko jaam to*

*kisi ko kuchh naam yaad aa gaye।* 

 

*मोहब्बत की मिसाल में,बस इतना ही कहूँगा।*

*बेमिसाल सज़ा है, किसी बेगुनाह के लिए!!!* 

 

*mohabbat ki misaal men,bas etnaa hi kahungaa।*

*bemisaal sajaa hai, kisi begunaah ke lia!!!* 

 

*हँसता तो रोज हूं*

*लेकिन...*

*‘खुश‚ हुए*

*जमाना हो गया॥* 

 

*hnastaa to roj hun*

*lekin...*

*‘khush‚ hua*

*jamaanaa ho gayaa॥* 

 

*हमने कब कहा के,*

*कीमत समझो तुम हमारी,*

*अगर हमे बिकना ही होता,*

*तो आज यूँ अकेले न होते।....* 

 

*hamne kab kahaa ke,*

*kimat samjho tum hamaari,*

*agar hame biknaa hi hotaa,*

*to aaj yun akele n hote।....* 

 

जख्म देना छोड दे ऐ जिंदगी,

अब तो मरहम की डिब्बी भी खाली हो गई है !! 

 

jakhm denaa chhod de ai jindgi,

ab to maraham ki dibbi bhi khaali ho gayi hai !! 

 

रिश्ता तोडना मेरी फितरत में नहीं,

हम तो बदनाम है रिश्ता निभाने के लिये....!! 

 

rishtaa todnaa meri phitarat men nahin,

ham to badnaam hai rishtaa nibhaane ke liye....!! 

 

मसरूफ़ है अभी वो मेरी खामियां गिनने में,,

मैं बस इतना जानता हूं उसमें खूबियां बेशुमार है।। 

 

masruph hai abhi vo meri khaamiyaan ginne men,,

main bas etnaa jaantaa hun usmen khubiyaan beshumaar hai।। 

 

झूठ कहते हैं लोग कि मोहब्बत सब कुछ छीन लेती है,

मैंने तो मोहब्बत करके ग़म का खजाना पा लिया। 

 

jhuth kahte hain log ki mohabbat sab kuchh chhin leti hai,

mainne to mohabbat karke gam kaa khajaanaa paa liyaa 

 

इश्क था साहब,

 कैसे छोड़ देता ।।

रूह तक कब्जा है,

 कैसे मुह मोड़ लेता।। 

 

eshk thaa saahab,

kaise chhod detaa ।।

ruh tak kabjaa hai,

kaise muh mod letaa।। 

 

ये आईने ना दे सकेंगे तुझे तेरे हुस्न की खबर...

कभी मेरी आँखों से आकर पूछो के कितनी हसीन हों तुम... 

 

ye aaine naa de sakenge tujhe tere husn ki khabar...

kabhi meri aankhon se aakar puchho ke kitni hasin hon tum.. 


कहने को शब्द नहींलिखने को भाव नहीं...

दर्द तो हो रहा हैपर दिखाने को घाव नहीं... 

 

kahne ko shabd nahin, likhne ko bhaav nahin...

dard to ho rahaa hai, par dikhaane ko ghaav nahin... 

 

मैं उसके बहुत करीब था

लेकिन ज़माना पैसे का था और मैं गरीब था !!!! 

 

main uske bahut karib thaa

lekin jmaanaa paise kaa thaa aur main garib thaa !!!! 

 

बहुत गौर से जिंदगी को देखने के बाद जाना मैंने

दिल से बडा दुशमन जमाने मे नही !!!!! 

 

bahut gaur se jindgi ko dekhne ke baad jaanaa mainne

dil se badaa dushaman jamaane me nahi !!!!! 

 

दरमियां....चाहे इश्क़ हो..अश्क़ हो..रश्क़ हो।।

शर्त बस इतनी सी है...जो भी हो सच हो।। 

 

daramiyaan....chaahe eshk ho..ashk ho..rashk ho,,

shart bas etni si hai...jo bhi ho sach ho!!!! 

 

ग़म के सारे मंज़र देखे,, वो भी ख़ुद के अंदर देखें,,😞

जो कहते थे अपना मुझको,,

        उनके हाथ मे खंज़र देखे!!!!! 

 

gam ke saare manjar dekhe,, vo bhi khud ke andar dekhen,,😞

jo kahte the apnaa mujhko,,

unke haath me khanjar dekhe!!!!! 



No comments:

Post a Comment